Artificial Intelligence क्या है और कैसे काम करता है

artificial intelligence in hindi, artificial intelligence kya hai

आज हम सभी Computers पर इस हद तक डिपेंड है की हम चाहते हैं की कोई ऐसा सॉफ्टवेर या ऐसा कंप्यूटर भी बन जाए जो हमारा काम भी कर दे और हमें काम करने के लिए कंप्यूटर के आगे लगातार बैठना भी ना पड़े। दोस्तों (AI) Artificial Intelligence in Hindi टेक्नोलॉजी आपके इसी सपने को पूरा करने का काम कर रही है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से आज हमारे अनेक काम आसान होते जा रहे हैं। चलिए आज मैं इस आर्टिकल में आपको बताता हूँ, की Artificial Intelligence क्या है? और इसका भविष्य क्या है। हमारे जीवन में इसके क्या फायदे होने वाले हैं।

दोस्तों आज हम जानेंगे AI के बारे में – ये कैसे काम करता है, इसका full form, definition अथवा Artificial Intelligence कृत्रिम बुद्धिमता के क्या फायदे और कहाँ कहाँ उपयोग (use) किया जाता है इत्यादि। इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े .

Artificial Intelligence (AI) क्या है? Meaning of artificial intelligence in Hindi:

Artificial Intelligence (AI) को हिंदी में हम ‘कृत्रिम बुद्धिमता’ कह सकते हैं। यानि यह मानव द्वारा निर्मित किया गया मस्तिष्क है जो इंसानों की तरह काम करने में सक्षम होगा। हालाँकि अभी इसमें बहुत से बदलाव आते जा रहे है और लगातार अपनी खूबियों को बढाते आ रहे हैं। साधारण शब्दों में कहूँ तो AI यानि ‘कृत्रिम बुद्धिमता’ इंसानों द्वारा निर्मित ऐसी Technology है, जो इंसानों की तरह सोचने में और कार्य करने में सक्षम है।

Artificial Intelligence (AI) का अविष्कार किसने किया ?

दोस्तों AI का अविष्कार (invention) कंप्यूटर जब बना उसी वक्त से शुरू हो गया था। पर AI को पहचान मिली 1956 में John McCarthy की वजह से। इन्होने ही इसकी पहली बार चर्चा की थी। उन्होंने कहा की ‘हम कंप्यूटर में अपने आप सोचने की क्षमता को विकसित कर सकते हैं’ अगर हमारी टीम अच्छे से मेहनत करें तो एक दिन हम कंप्यूटर को अपने आप काम करने लायक बना सकते हैं। दोस्तों आज उनकी इसी सोच और उनके इसी आईडिया ने AI का निर्माण करवाया है। और इसे साबित कर दिया है की कंप्यूटर अपने आप सोच सकते हैं।

Read Also:   Worldfree4u 2020 - Download Hindi Dubbed Bollywood, Hollywood & Telugu Movies

(Types of AI) Artificial Intelligence (AI) के प्रकार :

‘कृत्रिम बुद्धिमता’ दो तरह की Technology पर काम करती है। जिस तरह AI में परिवर्तन हो रहा है उम्मीद है इसके अनेक प्रकार भी सामने आयेंगे। लेकिन फिलहाल सिर्फ दो ही प्रकार मौजूद है।

Artificial Intelligence के यह दो प्रकार इस तरह है –

Weak AI:

Weak AI को Narrow AI भी कहा जाता है। यह किसी ख़ास कार्य को करने के लिए बनाई जाती है। अगर किसी भी कंप्यूटर, मोबाइल या मशीन में Narrow AI मौजूद होती है तो वो एक विशेष कार्य करती है। आपको बता दें की एप्पल के मोबाइल में ‘shri’ और एंड्राइड में Google Assistant को Weak AI  प्रणाली से बनाया गया है। यह डाटा को store, सर्च, एक्सपोर्ट, Multiple Task इत्यादि करने में काम आती है। आप इनकी मदद से बिना अपने मोबाइल फ़ोन को छुए किसी भी तरह की जानकारी ले सकते हो और किसी को भी कॉल कर सकते हो। आपको सिर्फ इसे कहना होता है।

Strong AI:

स्ट्रोंग AI को General Artificial Intelligence भी कहा जाता है। यह बहुत ही सतर्क बुद्धिमता वाली AI है। अगर किसी भी समय इसे कितना भी कठिन टास्क दे दिया जाए तो यह अपने मस्तिष्क की मदद से उसको हल करने की कोशिश करेगी। यानि यह अपने आप किसी भी प्रॉब्लम का हल खोजने में सक्षम होगी। इसका उपयोग Robotics में अत्यधिक होता है और इसमें लगातार बदलाव किये जा रहे हैं।

इसे मुख्य रूप से चार प्रकार का AI माना गया है जैसे –

Reactive Machine:

Strong AI में चार तरह की केटेगरी है पहली केटेगरी को रिएक्टिव मशीन के नाम से जाना जाता है। यह ऐसा सिस्टम है जो किसी भी स्थिति को समझकर उसके अनुसार हमें संदेश देता है। उसका हल बता सकता है, लेकिन इसकी मेमोरी इस तरह होती है की यह अपने पूर्व में दिए गये निर्देशों को याद नहीं रख पाता है। आपने चेस बोर्ड रोबोट का नाम तो सुना होगा वह इसी AI पर कार्य करता है।

Read Also:   Memes Meaning in Hindi | Memes कैसे बनाते है
Limited Memory:

Strong AI में यह केटेगरी सबसे अट्रेक्टिव और सबसे शानदार है। इस AI में मेमोरी होती है और यह पूर्व में किये गये कार्यों का विश्लेषण करके अपने निर्णय खुद ले सकता है। यानि इसमें याद रखने और टास्क को अपने अनुसार पूरा करने की क्षमता होती है।

Theory Of Mind :

AI का यह पार्ट हमारे इमोशन को समझने का कार्य करता है, यह समझ सकते हैं की उनके बिहेवियर से हमें क्या impact पड़ता है। इस प्रकार की AI पर अभी काम हो रहा है बहुत जल्द आपको और हमें यह AI देखने को मिल सकती है।

Self awareness :

यह ऐसी  AI Technology है जो किसी भी तरह की गलती को सही करने एंव उसके मुताबिक निर्देश देने का कार्य करती है। यह इन AI सिस्टम का खुदका Awareness System होता है जो समय-समय पर अपना काम करता है। टेस्ला की न्यू लौन्चिग कार में इस AI का इस्तेमाल किया गया है।

Artificial Intelligence Application कहाँ कहाँ उपयोग होते है?

अगर मैं साधारण भाषा में कहूँ तो आज हर जगह पर AI का उपयोग किया जाता है। ऐसा कोई भी क्षेत्र नहीं है जहाँ पर इस Technology को उपयोग नहीं हुआ हो। ऐसे में अगर हम बात करें की इसका मुख्यतौर पर कहां उपयोग होता है तो आप यह समझ सकते हैं की जहाँ किसी काम पर सबसे ज्यादा समय लगता है उस वक्त उस काम को करने के लिए एक रोबोट को तैयार किया जाता है जो AI पर ही आधारित होता है। यह एक Fix Task करने या Multi Task करने वाला हो सकता है।

वैसे इन क्षेत्रों में AI का उपयोग होता है –

  • Computer software
  • Automatic Car
  • Mobile
  • Automation
  • Finance
  • Education
  • Development
  • Low
  • Industrial

[नोट: Artificial Intelligence (AI) का उपयोग हर क्षेत्र में किया जाता है, आज हम AI से घीरे हुए है और क्षेत्र में इसका उपयोग किया जाता है।]

(Benefits of AI ) Artificial Intelligence Technology के लाभ क्या है ?

  • AI टेक्नोलॉजी की मदद से हम किसी भी कार्य को आसानी से कर सकते हैं।
  • इस टेक्नोलॉजी की मदद से मशीनों में सोचने की क्षमता होगी और वह स्वत: अपना काम अपने तरीके से करेगी।
  • हम बहुत एडवांस हो जायेंगे।
  • एक समय ऐसा भी आएगा जब AI की मदद से हम Virtual Mind का उपयोग कर पायेंगे।
  • AI सिस्टम पर आधारित मशीन से गलती होने के चांस ना के बराबर है।
  • भविष्य में हमारी शिक्षा नीति को भी AI सिस्टम ही संभालेगा। ऐसे में हमारी एजुकेशन बहुत अच्छी होगी।
  • भविष्य में AI आधारित रोबोट खुदसे बेहतर रोबोट बनाने में सक्षम होंगे।
Read Also:   Memes Meaning in Hindi | Memes कैसे बनाते है

Frequently Asked Questions about AI FAQs:

Q.1 AI आधारित रोबोट किस तरह के कार्य करते हैं ? What kind of tasks do AI based robots perform?

  1. अभी जो लेटेस्ट टेक्नोलॉजी पर आधारित जो भी रोबोट है वो AI पर कार्य करते हैं। वह एक बार किये गये कार्य को दोबारा अपनी समझ से करने में सक्षम है। रोबोट ‘सोफ़िया’ AI परा आधारित ही एक रोबोट है जो स्वत: किसी भी भाषा को समझ सकती है और उसी भाषा में बात-चीत कर सकती है।

Q.2 क्या भविष्य में हम रोबोट के गुलाम हो जायेंगे ? Will we become slaves of robots in the future?

  1. यह फ़िल्मी बातें हो सकती है, ऐसा कुछ नहीं होगा। लेकिन हम रोबोट के आदि जरुर हो जायेंगे। हम फिजिकल और मेंटल रूप से कमजोर हो जायेंगे।

Q.3 AI टेक्नोलॉजी का पूर्णत: विकास कब तक होगा ? How long will AI technology be fully developed?

  1. 2050 तक हम सभी को AI का विकास नजर आएगा, क्योंकि अभी इस टेक्नोलॉजी पर लगातर काम हो रहा है और अभी इसका पहला चरण शुरू हो चूका है। भविष्य में यह बहुत विकसित होने वाली है।

निष्कर्ष – What is Artificial Intelligence in Hindi:

Artificial Intelligence (AI) ‘कृत्रिम बुद्धिमता’ के बारें में हमने बहुत ही शोर्ट में सही जानकारी देने की कोशिश की है। आज AI हमारे जीवन को किस तरह आसान कर रही है उसके बारें में हमने यहाँ बताया है। आने वाला समय AI पर आधारित होगा। इसलिए आज समय है की हम वक्त के साथ बदले और बदलते वक्त को एक्सेप्ट करें।

दोस्तों हमे बताना न भूले अगर आपकी कोई सलाह और सुझाव हो तो निचे comment या email भी कर सकते है. हमारे blog Hindimesikhe.com पर आते रहे और हमेशा कुछ नया सीखते रहे-  Share करके अपना योग्यदान अवश्य दे, धन्यवाद!

You May Also Like

About the Author: HindiMeSikhe

HindiMeSikhe blog पर आपको हमेशा कुछ नया सिखने को मिलेगा जिससे आप घर बैठे पैसा भी कमा सकते है. अगर अपको हमारे द्वारा साझा कि गयी जानकारी अच्छा लगा हो तो कृपया और लोगो तक पहुचाने में मेरी मदद करे. आप भी अपना ज्ञान बांटना चाहते है तो कृपया hindimesikheonline@gmail.com पर content या भेज सकते है। जुरिये हमसे और अपनी बातें दुनिया तक पहुंचाए. Share जरूर करिये, धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *