ATM full form | ATM meaning in Hindi | एटीएम क्या है

ATM Full Form, ATM meaning in Hindi

ATM full form | ATM meaning in Hindi | एटीएम क्या है

What is ATM in Hindi :- आज के समय में एटीएम से तो लगभग हर एक व्यक्ति पैसा निकालता है और एटीएम मानो एक आम बात हो गई है । एटीएम कार्ड की सहायता से आप कहीं भी अपने आवश्यकता अनुसार पैसे को अपने बैंक से निकाल सकते हो । एटीएम के आ जाने से बैंकों में पैसे निकालने के लिए बढ़ती भीड़ कम हो चुकी है । अब खाताधारक को पैसे निकालने के लिए किसी फॉर्म को भरने की आवश्यकता नहीं पड़ती है । सीधे अपने एटीएम कार्ड की सहायता से कहीं पर भी पैसे निकाल सकते हो । एटीएम का प्रयोग तो लगभग सभी लोग करते हैं , मगर एटीएम का फुल फॉर्म (ATM machine full form in Hindi ) और एटीएम का इतिहास(ATM machine full history in Hindi) कोई नहीं जानता है । आज हम इस लेख के माध्यम से एटीएम का इतिहास और एटीएम का फुल फॉर्म बताने वाले हैं , तो आप हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें ।

एटीएम मशीन का फुल फॉर्म क्या होता है ?(What is ATM machine full form in Hindi )

एटीएम कार्ड का प्रयोग करने वाला लगभग हर एक व्यक्ति जानना चाहता है , कि एटीएम कार्ड का फुल फॉर्म क्या होता है (ATM machine full form ) या एटीएम मशीन का फुल फॉर्म (ATM card full form in Hindi) क्या होता है । एटीएम का फुल फॉर्म ऑटोमेटेड टेलर मशीन (automated teller machine) होता है

एटीएम मशीन का हिंदी में क्या अर्थ होता है ? (What is meaning of ATM machine in Hindi ):

एटीएम कार्ड (what is ATM card pronunciation in Hindi ) उपयोगकर्ता इसका हिंदी में उच्चारण नहीं जानते हैं । इसको हिंदी में ‘स्वचालित गणक यंत्र’ कहते हैं ।

एटीएम मशीन क्या है ? (What is ATM machine work in Hindi):

एटीएम मशीन(ATM machine) एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (electronic devices ) की तरह कार्य करता है । इस मशीन को केवल खाताधारक या एटीएम कार्ड धारक प्रयोग कर सकता है । एटीएम कार्ड और एटीएम मशीन का प्रयोग करके उपभोक्ता अपने पैसे को किसी भी एटीएम कार्ड मशीन या किसी भी जगह से निकाल सकते हैं । एटीएम कार्ड के पीछे कार्ड धारक का पूरा विवरण दर्ज होता है और यह एक प्रकार का स्पेशल प्लास्टिक कार्ड होता है , जिसमें यूजर की सारी इनफार्मेशन को एक मैग्नेटिक स्ट्रिप (magnetic strip ) में फिट की जाती है । एटीएम कार्ड धारक को पैसे निकालने के लिए केवल अपने कार्ड को एटीएम मशीन के अंदर फिट करना होता है । बैंक द्वारा दिए गए 4 डिजिट का एटीएम पिन एटीएम कार्ड(ATM pin) को इंसल्ट करने के बाद दर्ज करना होता है । इतना करने के बाद यूजर अपने पैसे को बड़ी ही आसानी से निकाल सकता है ।

विश्व में सबसे पहले एटीएम मशीन को किस जगह लगाया गया था ? (Where was the first ATM machine installed in the world in Hindi? )

विश्व में सबसे पहले एटीएम मशीन को 27 जून 1967 को लंदन में इंस्टॉल किया गया था । इस मशीन को बारक्लेज़ बैंक ने अपनी एनफील्ड टाउन की शाखा में इंस्टॉल किया था।

एटीएम का आविष्कार किसने किया था ? (Who invented ATM? )

23 जून 1925 को भारत के मेघालय राज्य के शिलांग में जन्मे जॉन शेफर्ड बैरन (John Adrian Shepherd-Barron) ने स्कॉटलैंड में रहने के दौरान किया था ।

भारत देश में सबसे पहले एटीएम को कहां और कब लगाया गया था ? (Where and when was the first ATM installed in India? )

Read Also:   UPS का full form क्या होता है in hindi

भारत देश में सबसे पहले एचएसबीसी बैंक ने 1987 में एटीएम को महाराष्ट्र के मुंबई में इंस्टॉल किया था ।

एटीएम के क्या-क्या फायदे हैं ? (ATM benefits in Hindi )

एटीएम के दो फायदे आपको पता ही है , मगर फिर भी हमने कुछ विशेष फायदों का वर्णन इस प्रकार किया है ।

. इंडियन की सहायता से आप 24 घंटे कभी भी किसी भी समय अपने पैसे को निकाल सकते हैं ।
. एटीएम के वजह से बैंक कर्मचारियों का कार्यभार बहुत हद तक कम हो गया है ।
. एटीएम अपने ग्राहकों को नई करेंसी वाली नोटे प्रदान करती हैं ।
. यात्रियों के लिए एटीएम सेवा बहुत ही लाभकारी है इसके माध्यम से यह कहीं भी किसी भी हालात में एटीएम के जरिए अपने पैसे को विड्रॉल ( money withdrawal ) कर सकते हैं ।
. एटीएम त्रुटि रहित सेवा प्रदान करता है ।
. एटीएम की सहायता से आप अपने धनराशि को अपने सीधे खाते में भी जमा कर सकते हैं ।
. एटीएम की सहायता से आप ऑनलाइन शॉपिंग और प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज भी कर सकते हैं ।
. किसी भी प्रकार का भुगतान करने के लिए आप एटीएम का सहारा ले सकते हैं ।
. एटीएम खाता धारकों के लिए एक बढ़िया विकल्प बन गया है ।

You May Also Like

About the Author: HindiMeSikhe

HindiMeSikhe blog पर आपको हमेशा कुछ नया सिखने को मिलेगा जिससे आप घर बैठे पैसा भी कमा सकते है. अगर अपको हमारे द्वारा साझा कि गयी जानकारी अच्छा लगा हो तो कृपया और लोगो तक पहुचाने में मेरी मदद करे. अगर आप भी अपना ज्ञान बांटना चाहते है तो कृपया admin@hindimesikhe.com पर अपना content भेजे. जुरिये हमसे और अपनी बातें दुनिया तक पहुंचाए. Share जरूर करिये, धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *