आयुष्मान भारत योजना क्या है | Eligibility | Registration | How to apply | Benefits of PMJAY

Ayushman Bharat Yojana, PMJAY

Ayushman Bharat Yojana को ही Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana (PMJAY) कहा जाता है. National health protection scheme के तहत देश के 10 करोड़ गरीब परिवार के 50 करोड़ लोगों को 5 लाख का E-card health coverage प्रदान करना.

सितंबर 2019 तक, 18,059 अस्पतालों में 4,406,461 लाख से अधिक लाभार्थियों को भर्ती किया गया है और 10 करोड़ से अधिक ई-कार्ड जारी किए गए हैं।

PM Jan Arogya Yojana के लाभार्थी को एक E-card issue किया जाएगा जिससे वो 5 लाख तक का Cashless Health treatment देश के किसी भी अस्पताल (Public, Private or Govt ) में E-card का उपयोग कर फ्री में इलाज करा सकता है. इस Coverage में 3 दिन Pre-Hospitalisation और 15 दिन Post-Hospitalisation के खर्चे शामिल है.

यहाँ पढ़ें : प्रधानमंत्री mudra योजना 2019 – मुद्रा Loan कैसे प्राप्त करें 

PMJAY – Ayushman Bharat Yojana क्या है:

आयुष्मान भारत योजना (PMJAY) भारत सरकार द्वारा जारी स्वास्थ्य योजना National Health Mission है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य पुरे भारत के गरीब एंव मध्यवर्ग लोगों को Swasthya bima दिया जाता है. 

Health E-card की मदद से वह भारत की किसी भी Hospitals से 5 लाख तक का इलाज फ्री में करवा सकता हैं. आइये समझते हैं की यह PMJAY योजना क्या है और कैसे इसका लाभ उठाया जा सकता है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने PMJAY की शुरुआत 14 अप्रेल 2018 को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जयंती पर छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले से की थी. इसे दीनदयाल उपाध्याय की जन्मतिथि 25 सितंबर 2018 को पुरे भारत में लागु कर दिया गया है.

PMJAY योजना का पूरा नाम Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana है जिसे आयुष्मान भारत योजना भी कहा जाता है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना को ही (Ayushman Bharat Yojana) कहा गया है. जो की अब PMJAY में शामिल हो गई है. 

आयुष्मान भारत योजना का लक्ष्य या उद्देश्य क्या है?:

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों (Rural area) से 8.03 करोड़ एंव शहरी इलाखों (Urban area) से  2.33 करोड़ परिवारों को Cover करना है. हर गरीब परिवारों को 5 लाख तक health coverage मिलेगा जिससे वो लोग फ्री Free में किसी भी अस्पताल (Public, Private, Government) से अपना इलाज करवा सकेंगे.

आयुष्मान भारत योजना के तहत 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपया तक का सालाना स्वास्थ्य बिमा देना है.  इन परिवारों का विवरण समाजिक, आर्थिक, जातिगत जनगणना द्वारा दिए गये Data के अनुसार होगा और हर एक गरीब परिवार को इस योजना का लाभ मिल सके. PMAY के माध्यम से Cashless and Paperless इलाज हो पाए, इसके लिए सरकार पूरी कोशिश कर रही है और यह आयुष्मान भारत योजना सरकार की सोच पर खरा उतर रही है.

PMAY दो प्रमुख तत्व शामिल है.

आयुष्मान भारत योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन:

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना का नाम बदलकर आयुष्मान भारत कर दिया गया है. इसमें 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपय तक की हैल्थ बीमा दिया जाएगा. इसके तहत कोई भी गरीब परिवार जो इस योजना में जुड़ा हुआ है भारत की किसी भी जगह से अपना इलाज करवा सकता है वो भी बिलकुल फ्री. इसके अंतर्गत शहरी एंव ग्रामीण नागरिकों को शामिल किया गया है.

कल्याण केंद्र:

आयुष्मान भारत दो अलग-अलग भागो में बांटा गया है उसका एक भाग कल्याण केंद्र है. इसमें नवजात शिशुओं एंव गर्भवती महिलाओं की देखरेख शामिल है. इसमें बुजुर्गों को भी शामिल किया गया है उनके दांतों से लेकर मानसिक प्रॉब्लम का भी इलाज शामिल है. इसमें सभी बुजुर्गो एंव बच्चों एंव उनकी माताओं की प्रति ध्यान दिया गया है. कल्याण केंद्र स्थापित करने के पीछे लक्ष्य है यह है की अस्पतालों में भीड़ कम हो और कहीं पर भी आसानी से अच्छा ईलाज मिल पाए. 

ग्रामीण इलाकों के लोग कैसे आयुष्मान भारत योजना में शामिल हो सकते हैं:

Read Also:   Pradhan Mantri Awas Yojana (प्रधानमंत्री आवास योजना) की सम्पूर्ण जानकारी

वैसे तो आयुष्मान भारत योजना में अपने आप परिवारों का चयन किया गया है. पर कुछ मापदंड है जिनकी मदद से कोई भी आयुष्मान भारत योजना में शामिल हो सकता है. यानि आयुष्मान भारत योजना के तहत मिलने वाला लाभ ऐसे लोगों को मिलेगा. जिनके पास अपना खुद का घर नहीं हैं, गरीब है एंव घर में कोई भी कमाने वाला नहीं है. ऐसे परिवारों को आयुष्मान भारत योजना में जोड़ा जाएगा. जो अनाथ है एंव जिनका कोई नहीं है उन्हें भारत सरकार द्वारा इस योजना में अपने आप बिना किसी अपील के जोड़ दिया जाएगा. 

शहरी इलाकों में इस योजना से लोगों को कैसे जोड़ा जा रहा है:

शहरी इलाकों में इन जैसे परिवारों एंव लोगों को आयुष्मान भारत PMJAY में जो शामिल किया जा रहा है. 

  • भिखारी, कचरा बीनने वाले, झुग्गी झोपड़ी वाले एंव माध्यम वर्ग के परिवारों को इसमें शामिल किया जा रहा है.
  • पलम्बर, राजमिस्त्री, पेंटर, इलेक्ट्रिशियन, सिक्योरिटी गार्ड एंव कुली इत्यादि को इस योजना में अपने आप शामिल किया जाएगा.उन्हें इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी भी तरह का एप्लिकेशन नहीं लगाना पड़ेगा. 
  • सीधे शब्दों में कहूँ तो इस योजना में हर एक परिवार को जोड़ा जा रहा है और सभी को स्वास्थ्य लाभ देने की कोशिश की जा रही है. भारत के अनेक इलाकों में इस योजना का खूब फायदा भी उठाया जा रहा है. 

आयुष्मान भारत योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने की प्रक्रिया क्या है:

आयुष्मान भारत योजना PMJAY के तहत अस्पताल का पूरा खर्च सरकार वहन करती है पर एक सवाल हमेशा रहता है की क्या ? अस्पताल में भर्ती होने के लिए हमें किसी भी तरह का फॉर्म भरा जाता है तो मैं आपको बता दूँ की अस्पताल में भर्ती के लिए इस योजना के तहत किसी भी तरह का फॉर्म फील नहीं करवाया जाएगा. इसके अलावा आयुष्मान मित्र द्वारा आपकी भरपूर मदद भी की जाएगी. आपसे किसी भी तरह का पैसा नहीं वसूला जाएगा, हॉस्पिटल के सभी तरह का खर्च सरकार वहन करेगी इतना ही नहीं परिवार का कोई भी सदस्य भारत में किसी भी सरकारी अस्पताल एंव आयुष्मान भारत से जुड़े हुए अस्पताल में अपना इलाज करवा सकता है. 

आयुष्मान भारत योजना के तहत किन बिमारियों का इलाज फ्री में होगा:

Read Also:   Atal Pension Yojana (अटल पेंशन योजना क्या है )

सरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना में 1354 बिमारियों को शामिल किया गया है. इतना ही नहीं इन बिमारियों में घुटना बदलना, कोरोनरी बायपास एंव स्टंट जैसे महंगे ओपरेशन भी शामिल है. तो आप कह सकते हैं की आयुष्मान योजना एक तरह का वरदान है उन गरीबों के लिए जो महंगा इलाज नहीं करवा पा रहे थे. यदि किसी भी तरह के एक्सीडेंट में किसी की मौत हो जाती है तो आयुष्मान भारत योजना के तहत उसके परिवार वालों को भी साहयता राशी दी जाती है.

कैसे पता करें की हम आयुष्मान भारत योजना में शामिल है भी या नहीं:

हर एक राज्य में राज्यसरकार द्वारा आयुष्मान भारत योजना में शामिल परिवारों को एक स्वास्थ्य कार्ड भेजती है. इस कार्ड में 5 लाख रूपए तक का स्वास्थ्य बीमा होता है और साफ़ शब्दों में लिखा होता है की इस परिवार को आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रूपए तक की मेडिकल हेल्प दी जायेगी. आप चाहे तो PMJAY की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर भी अपना नामांकन देख सकते हैं.

कौन-कौनसे अस्पताल में हो सकता है इलाज:

सरकार द्वारा जारी गाइडेंस में साफ़ लिखा हुआ है की जिस अस्पताल में कम से कम 10 बेड एंव इन्हें बढाने की क्षमता होती है उस अस्पताल को आयुष्मान भारत योजना से जोड़ा जा सकता है. ऐसे में हर एक शहर में एक या दो अस्पताल मौजूद है जो आयुष्मान भारत योजना PMJAY से जुड़ा हुआ है. इसके अलावा लाभार्थी किसी भी सरकारी अस्पताल में अपना इलाज पूरी तरह से मुफ्त करवा सकता है. 


निर्देश: आप अपने शहर में या फिर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाकर पता कर सकते हैं की आयुष्मान भारत योजना के तहत आप सबसे नजदीक कौनसे अस्पताल में अपना इलाज करवा सकते है. आपके नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में ‘आयुष्मान भारत योजना’ के तहत पूरी जानकारी मिल जाएगी. 

आयुष्मान भारत योजना PMJAY ( प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना) की जानकारी में लिखा गया हमारा आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें जरुर बताएं. इसके साथ ही आयुष्मान भारत योजना से जुड़ा किसी भी तरह का सवाल हो तो आप हमें यहाँ कमेंट कर सकते हैं. हमारी टीम आपको बहुत जल्द जवाब देने की कोशिश करेगी. 

Ayushman Bharat Yojana से जुड़ी किसी प्रकार का सवाल या सुझाव हो इस 14555 पर कॉल कर सकते हैं

Read Also:   प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) की संपूर्ण जानकारी | PMKVY क्या है और इसका लाभ कैसे लें

अन्य सरकारी योजना से जुडी जानकारी के निचे गए post पढ़े !

You May Also Like

About the Author: HindiMeSikhe

HindiMeSikhe blog पर आपको हमेशा कुछ नया सिखने को मिलेगा जिससे आप घर बैठे पैसा भी कमा सकते है. अगर अपको हमारे द्वारा साझा कि गयी जानकारी अच्छा लगा हो तो कृपया और लोगो तक पहुचाने में मेरी मदद करे. अगर आप भी अपना ज्ञान बांटना चाहते है तो कृपया admin@hindimesikhe.com पर अपना content भेजे. जुरिये हमसे और अपनी बातें दुनिया तक पहुंचाए. Share जरूर करिये, धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *