बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना Scheme benefits in Hindi

beti bachao beti padhao

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2020: हमारे देश में वर्ष 1961 से बाल लिंग अनुपात (about child sex ratio details) में बहुत ही ज्यादा अंतर या यूं कहें की गिरावट देखने को मिल मिल रही है। Beti bachao beti padhao scheme in Hindi– बेटी पढ़ाओ बेटी बढ़ाओ योजना क्या है और इससे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी Hindimesikhe.com पर- अंत तक पढ़े!

वर्ष 1991 में हर एक हजार लड़कों की तुलना में 0 से 6 वर्ष के बीच केवल 945 लड़कियों का लिंग अनुपात पता चला था। वहीं पर 2011 आते-आते इस संख्या में हमें और भी गिरावट देखने को मिल गई जो कि एक गंभीर चिंता का विषय है।

आपलोगों से अनुरोध है भ्रूण हत्या को रोकने में मदद करें क्यूंकि बेटी है तो कल है.

जिस भी देश में सामान्य रूप से लिंग (serious problem of sex ratio in India) अनुपात में निरंतरता बनी रहती है , उस देश का विकास भी स्थिर और तेज होता है। इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2015 में “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना”(beti padhao Beti bachao scheme information in Hindi – BBBP) की शुरुआत की थी। लिंगानुपात एक बहुत ही गंभीरता वाला विषय है , जहां पर देश में सभी प्रकार के क्षेत्र विकास करने में देश का निर्वाहन करते हैं , वहीं पर लिंग अनुपात भी एक महत्वपूर्ण बिंदु है । आज हम इस लेख के माध्यम से आप सभी लोगों को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के स्कीम ( BBBP SCHEME INFORMATION IN HINDI ) के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं। अगर आप एक बेटी के माता-पिता है तो गर्व करे न की शर्मिन्दिगी और इस सरकारी योजना का लाभ ले सकते है.

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना क्या है? (Beti padhao beti padhao scheme in Hindi):

इस योजना का मुख्य उदेश्य है girl birth rate में इजाफा करना, जागरूकता बढ़ाना और लोगो की मानसिकता में बेटी (लड़की) के प्रति बदलाव लाना. शुरुआत में इस योजना के लिए 100 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को उत्तर प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, पंजाब, बिहार और दिल्ली में मुख्य रूप से लागू करना था क्यूंकि इस राज्यों में child sex ratio (CSR) ज्यादा ही निचे जा जाने लगा था जिसके रोकथाम के लिए ये जरूरी कदम उठाये गए.

Read Also:   Duplicate RC Book Online Download कैसे करें

BBBP SCHEME details in Hindi : हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना का शुभारंभ 22 जनवरी 2015 को पानीपत में एक आयोजन के समय किया था। इस योजना के केंद्रीय बजट एवं इसके प्रशासनिक नियमों को बनाए रखने में महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ( ministry of women’s and child development in India) जिम्मेदार होगा। इस योजना के तहत किसी भी कन्या का पिता या अभिभावक किसी सरकारी बैंक (governmental Bank) में या फिर नजदीकी पोस्ट ऑफिस (nearest post office) में इसका खाता खुलवा सकता है। इस योजना के शुरू करने का उद्देश्य केवल लिंग अनुपात में अंतर लाना एवं महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से हमारे देश के प्रधानमंत्री चाहते हैं , कि देश में हो रहे भ्रूण हत्या (foeticide problem in India) जैसे घिनौने कार्यों को रोकना हैं। इसके अतिरिक्त इस योजना के माध्यम से सरकार बेटों और बेटियों में अंतर किए जाने वाले जैसे मानसिकता वाले लोगों में बदलाव लाने का प्रयास कर रही है।

Download Beti Bachao Beti Padhao Application Form:

BBBP scheme form information in Hindi : यदि आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करके लाभ उठाना चाहते हैं , तो हम आपको बता दें “बेटी पढ़ाओ बेटी पढ़ाओ” योजना के तहत किसी भी प्रकार का आवेदन नहीं होता है। जो भी वेबसाइटें इस योजना से संबंधित फॉर्म को डाउनलोड ( BBBP SCHEME FORM INFORMATION IN HINDI ) करवाने का दावा करती है , वह सभी आपके साथ धोखाधड़ी करती है । इस प्रकार की वेबसाइटों से आपको सदैव सतर्क रहना चाहिए। सरकार भी ऐसी वेबसाइटों से सतर्क रहने की सलाह देती है, इससे सम्बंधित circular भी जारी किया गया है। इस योजना का शुभारंभ केवल सरकार ने समाज एवं लिंग अनुपात में रुचि रखने वाले लोगों की मानसिकता में बदलाव लाने के लिए किया है।

अगर आपको किसी भी प्रकार की आर्थिक मदद चाहिए तो आप सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) के तहत लाभ उठा सकते है. उसके लिए यहाँ से Application form download करे. १० साल तक की बच्ची के लिए सुकन्या समृद्धि योजना खाता खुलवा सकते है किसी भी नजदीकी Bank या post office में. यहाँ से अभी फॉर्म डाउनलोड करे

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के क्या लाभ हैं ?(Beti padhao Beti bachao scheme benefits in Hindi):

. इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए कन्याओं को 0 से 10 वर्ष तब की कन्या को लाभ मिल सकता है।

Read Also:   MP Samagra शिक्षा पोर्टल पर मैपिंग कैसे करें |

. इस योजना के जरिए लिंग अनुपात जैसे विचार रखने वाले लोगों की मानसिकता में बदलाव लाना है।

. इस योजना के अंतर्गत लड़कियों एवं लड़कों में अंतर करने वाले लोगों को महिलाओं की महत्वता एवं उनके भागीदारी के बारे में समझाना है।

. इस योजना के प्रारंभ हो जाने से भ्रूण हत्या जैसे अपराध को रोकना है।

. इस योजना के अंतर्गत महिलाओं का सम्मान एवं सशक्तिकरण लाना है।

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ स्कीम के क्या नियम है ? (Rules and regulation about BBBP Yojana 2020):

BBBP SCHEME RULES details IN HINDI : इस योजना के तहत कन्या के अभिभावक या माता-पिता किसी भी अपनी नजदीकी सरकारी बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में जाकर इस योजना ( beti bachao beti padhao yojana in Hindi) के अंतर्गत अपने बेटी का खाता खुलवा सकते हैं। खाता खोलने के बाद कन्या के जन्म से लेकर उसकी आयु जब तक 14 वर्ष की नहीं हो जाती तब तक निर्धारित धनराशि को जमा करना अनिवार्य होता है। जब कन्या 18 वर्ष की हो जाती है , तब वह इस योजना के माध्यम से इस में जमा हुई धनराशि का 50% निकाल सकती है। जब कन्या 21 वर्ष यानी कि विवाह योग्य हो जाए तब , वह अपने विवाह के लिए इसमें जुटी हुई धनराशि को संपूर्ण रूप से निकाल सकती है।

BBBP scheme से संबधित ज्यादा खोजे जाने वाले Terms:

Beti bachao, beti padhao yojana
Beti bachao beti padhao slogan
Beti bachao beti padhao poster
Beti bachao beti padhao logo
Beti bachao beti padhao essay
Beti bachao beti padhao in hindi

अन्य महत्वपूर्ण India’s’ Central Government Schemes in Hindi:

निष्कर्ष :-बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना:

इस योजना के माध्यम से हमारे देश की सरकार लिंग अनुपात जैसे विचार रखने वाले लोगों के अंदर सुधार लाने का प्रयास कर रही है। आज हमारे देश में आप देखेंगे कि पहले के मुकाबले महिलाएं लगभग हर क्षेत्र में अपनी भागीदारी को भली-भांति पूरा करती हुई नजर आ रही है। जिस भी देश का लिंगानुपात सामान्य होता है , उस देश की आर्थिक स्थिति और विकास मजबूत होती है। हमारे देश में ही आज भी कहीं ना कहीं लड़कियों एवं लड़कों में भेदभाव करने वाले लोगों के अंदर भ्रूण हत्या जैसे घिनौने अपराध को करने का विचार आता है। मगर यदि आपको ऐसे लोगों के बारे में पता चले तो हमारा कर्तव्य बनता है , कि इसकी सूचना नजदीकी सरकारी क्षेत्रों (ministry of women and child development) में करें। इसके अतिरिक्त हमारे देश के प्रत्येक नागरिकों को सरकार द्वारा चलाई जा रही इस मुहिम में उनका संपूर्ण रूप से सहयोग करना चाहिए।यदि हमारे द्वारा प्रस्तुति आलेख आपको पसंद आया हो , तो इसे आप अपने मित्रजन एवं परिजन के साथ अवश्य साझा करें। अपने विचारों एवं सुझावों को हमारे साथ साझा करने के लिए कमेंट बॉक्स में हमें अवश्य कमेंट करें।

Read Also:   Pradhan Mantri Mudra Yojana (PMMY) क्या है | मुद्रा loan कैसे पायें

You May Also Like

About the Author: HindiMeSikhe

HindiMeSikhe blog पर आपको हमेशा कुछ नया सिखने को मिलेगा जिससे आप घर बैठे पैसा भी कमा सकते है. अगर अपको हमारे द्वारा साझा कि गयी जानकारी अच्छा लगा हो तो कृपया और लोगो तक पहुचाने में मेरी मदद करे. आप भी अपना ज्ञान बांटना चाहते है तो कृपया hindimesikheonline@gmail.com पर content या भेज सकते है। जुरिये हमसे और अपनी बातें दुनिया तक पहुंचाए. Share जरूर करिये, धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *